Society & Culture

Continue
varanasi-ghats-cremation

मुर्दों का मलाल, काश हमें लकड़ी से नहीं कचरे से जला देते

Posted by Ajay Saklani on April 12, 2016  /   Comments

बनारस में गंगा किनारे दिन रात जलती चिताओं की अग्नि कभी शांत नहीं होती। हर दिन ना जाने कितने ही मुर्दों को वहाँ मुखाग्नि दी जाती है. देश भर से लोग अपने-अपने परिजनों की आखिरी इच्छा …

Continue

जानकारी के अभाव में गलत दिशा में ले जाता सोशल मीडिया

Posted by Ajay Saklani on March 13, 2016  /   Comments

सोशल मीडिया अपने दोस्तों के साथ जुड़ने के एक माध्यम के रूप में विकसित हुआ था और जल्दी ही यह एक विचारों के आदान-प्रदान के मंच के रूप में भी उभर गया। दुनिया भर में …

Continue

तेरी माँ की, तेरी बहन की… बोल भारत माँ की जय

Posted by Ajay Saklani on March 9, 2016  /   Comments

इस लेख के शीर्षक में लिखे शब्दों से यदि किसी को आपत्ति हो तो माफ़ी चाहूँगा परंतु यह शब्द इस समय चल रहे हंगामे के बारे में बात करने के लिए ज़रूरी हैं। देश में …

Continue

इस राष्ट्र में रहने वाले भक्त ही केवल राष्ट्र भक्त हैं

Posted by Ajay Saklani on March 8, 2016  /   Comments

2013 के लोकसभा चुनाव के लिए जब भाजपा की तरफ से नरेंद्र मोदी का नाम सामने आया उस समय से एक शब्द ‘भक्त’ काफी मसहूर हो गया। सोशल मीडिया पर इस शब्द ने एक नया …

Continue

Beauty of Dharamshala is beyond the Politics

Posted by Ajay Saklani on March 8, 2016  /   Comments

The India-Pakistan match on 19 March 2016 during the Twenty-20 world cup 2016 may have created a tension among people living in Dharamshala or people visiting the city but the beauty of Dhauladhar hills have …

Continue

सबसे बड़ा आन्दोलन या षड़यंत्र???

Posted by Ajay Saklani on April 12, 2011  /   Comments

आज़ादी के बाद के सबसे बड़े कहे जाने वाले अब्दोलन को लेकर लोगों में काफी चिंतन हो रहा है| बहुत सारे मित्र चाहे वो फेसबुक में हो या फिर देश के अलग-अलग शहरों में, इस …

Continue