Tag: Banaras

मुर्दों का मलाल, काश हमें लकड़ी से नहीं कचरे से जला देते

बनारस में गंगा किनारे दिन रात जलती चिताओं की अग्नि कभी शांत नहीं होती। हर दिन ना जाने कितने ही मुर्दों को वहाँ मुखाग्नि दी जाती है. देश भर से लोग अपने-अपने परिजनों की आखिरी इच्छा का सम्मान करते हुए तथा उनकी आत्मा की मोक्ष प्राप्ति के लिए उनके पार्थिव शरीर को लेकर बनारस पहुंचते हैं....